ADM full form in Hindi : ए डी एम का फुल फॉर्म

दोस्तों क्या आप ADM का फुल फॉर्म जानना चाहते है अगर हा तो आप बिलकुल सही जगह पर है क्यों की यहाँ पर आज मैं आपको ADM के फुल फॉर्म के साथ-साथ इसके बारे में और भी बहुत सी महत्वपूर्ण जानकारियां देने वाला हु ताकि आगे चल कर आपको किसी भी समस्या का सामना नहीं करना पड़े | 

दोस्तों जैसा की आपको पता ही होगा की देश की रक्षा करने के लिए बहुत सारे अधिकारियों का चयन किया जाता है जिनके जरिए हमारी सरकार हमें बहुत से सुविधा उपलब्ध कराती है और यह काम एक अधिकारी का होता है इसी तरह जनता की सेवा करने वाला ADM भी एक अधिकारी होता है जिसके माध्यम से सरकार हम तक पहुंचने की कोशिश करती ADM हर जिले के DM ( डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट ) का सहायक होता है और ADM Sub Divisional Magistrate के तहत कानून व्यवस्था, सामान्य प्रशासन की पूरी जिम्मेदारियां संभलता है तो चलिए इसके बारे में एक – एक करके पूरी जानकारी लेते है | 

ADM full form 

( हिंदी )

सहायक जिला अधिकारी 

( English )

Additional District Magistrate   

ADM का मतलब क्या होता है ? 

दोस्तों अगर मैं कुछ शब्दों में ADM का मतलब बताऊ तो ADM सामान्यतः DM का सहयोगी होता है तथा इसका काम मुख्य रूप से ST, SC तथा OBC के डोमिसाइल तथा विभिन्न प्रकार के वैधानिक प्रमाण पत्र जारी करना है यानी DM के ऊपर जितने अन्य काम होते है उन सारे कामों को ADM संभालता है और अगर DM जिले पर ना होता तो उसका भी सारा काम ADM संभालता है |  

ADM संपत्ति के दस्तावेजों पंजीकरण बिक्री कार्य , वकीलों की सकती शेयर प्रमाण पत्र ,दस्तावेजों का कानून के हिसाब से पंजीकरण कराना अनिवार्य ADM के अधीन अनिवार्य होता है |  

निर्वाचन कार्य  : निर्वाचन कार्य मतलब जिले में विधानसभा में निर्वाचन छेत्र के लिए रिटर्निंग अधिकारी और मतदाता सूची के सम्बन्ध में निर्वाचन रजिस्ट्रीकरण का जितना भी कर भार होता है उसे ADM ही संभालता है |    

ये भी पढ़े… 

DM के द्वारा कराए जाने वाले ADM के कार्य 

ADM को बहुत सारे काम DM के द्वारा भी करने को दिया जाता है जैसे की 

  1. जिला मजिस्ट्रेट , डिप्टी  कमिश्नर , और सब डिविजनल मजिस्ट्रेट कार्यकारी मजिस्ट्रेट की शक्ति का इस्तेमाल  करके ADM अपने कार्यों को पूरा कर सकता है 
  2. किसी भी महिला की मौत अगर शादी के 7 साल के भीतर हो जाती है तो उससे सम्बंधित पूछ-ताछ ADM करता है 
  3. कहीं भी आवश्यकता पड़ने पर ADM पुलिस को केस दर्ज करने का आदेश भी दे सकता है 
  4. किसी भी बड़े केस जैसे मौत , हत्या या फिर महिला होम आदि में हिरासत के साथ-साथ ADM या फिर सब डिविशनल मजिस्ट्रेट को इसका जाँच करने का पूरा अधिकार है 
  5. अगर कहीं आग लग जाती है ,दंगा हो जाता  है या कोई प्राकृतिक आपदा आ जाती है तो उसकी भी जांच ADM कर सकता है 
  6. विवाह पंजीकरण : ADM को हिन्दू विवाह अधिनियम के तहत विवाह के रजिस्ट्रार में शक़्ति प्राप्त है इस तरह की सकती आमतौर  पर अडिशनल डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट द्वारा प्रदान की जाती है 

ADM बनने के लिए योग्यत 

सबसे ज्यादा छात्रों के द्वारा पूछे जाने वाला सवाल यही है की ADM बनने के लिए हमें कितनी योग्यता चाहिए तो चलिए इसके बारे एक – एक करके जानते है 

  • ADM  बनने के लिए सबसे पहले आपको अपना 12th अच्छे नंबरों से किसी भी विषय से पास करना होगा 
  • आपको 12th पास करने के बाद अपना ग्रेजुएशन पूरा करना  करना होगा होगा आर्ट्स से  
  • जब आपका  ग्रेजुएशन कम्पलीट हो जाए तो आप ADM  के लिए आवेदन कर सकते है 
  • एक बात और ADM के लिए कम से कम आपकी उम्र 21 वर्ष होनी चाहिए 
  • ADM का फॉर्म आप कुछ ही बार भर सकते है 

दोस्तों ADM बनने के लिए आपको बहुत सारी परीक्षाएं और इंटरव्यू से गुजर के जाना पड़ेगा अगर आप इन सारे परीक्षाओ को पास कर जाते है तो आपको ADM के पद  पर यानि किसी जिले के अधिकारी के तौर पर नियुक कर लिया जाता है इस लिए अगर आप  ADM बनना चाहते हो तो अभी से कड़ी मेहनत सुरु कर दो क्यों की इसका एग्जाम इतना सरल नहीं होता है | 

ये भी पढ़े… 

ADM के मुख्य दायित्व क्या है 

  • अगर कही ADM के छेत्र में महामारी बाढ़ या फिर सूखा  पड़ता हैं तो उसकी देख रेख तथा नियंत्रण कार्य की पूरी जिम्मेदारी ADM की होती है 
  • भूमि का मूल्यांकन तथा इसका लेखा जोखा की पूरी जिम्मेदारी ADM की होती है 
  • जिला बैंक के लेखा जोखा  के अध्यछ भी ADM साहब ही होते है 
  • कृषि के छेत्र में भी ADM के अंतर्गत काम काज होता है जैसे सिंचाई , बुवाई , बकाया , तथा उत्पाद शुल्क इत्यादि 

ADM की सैलरी कितनी होती है ? 

आज कल छात्रों के द्वारा सबसे ज्यादा पूछे जाने वाला सवाल ये है की ADM बनने के बाद हमें सैलरी कितनी मिलेगी तो मैं आपको बताना चाहूंगा की ADM बनने के बाद हमें कम से कम शुरुआती सैलरी 50  से 80 हज़ार के बीच  में मिलती है और जैसे – जैसे  आपका अनुभव बढ़ता जाता है वैसे-वैसे आपकी सैलरी भी बढ़ती जाती है 

Conclusion 

मुझे उम्मीद की आपको मेरा यह  ADM से सम्बंधित आर्टिकल अच्छे से समझ आया होगा और आपके मन में ADM के जितने भी सवाल रहे होंगे आपको उन सारे सवालों का जवाब मिल गया होगा लेकिन फिर भी अगर आप इससे सम्बंधित कुछ और जानना चाहते है तो आप मुझे कमेंट बॉक्स में बता सकते है मैं  आपको उस टॉपिक के बारे में जानकारी देने की पूरी कोशिश करूँगा |  

ये भी पढ़े… 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *