DM ka full form in Hindi : डीएम क्या होता है ?

दोस्तों क्या आप DM ( डीएम ) का फुल फॉर्म जानना चाहते हैं अगर हा तो आप बिकुल सही जगह पर हो क्यों की आज मैं आपको DM के फुल फॉर्म के साथ – साथ इसके बारे में और भी बहुत सी महत्वपूर्ण जानकारियां देने वाला हु , और हर एक व्यक्ति को DM के बारे में जानकारी होनी चाहिए क्यों की किसी भी जिले का प्रथम नागरिक डीएम होता है तथा डीएम भारत में होने वाले सबसे बड़ी परीक्षा यानि UPSC को निकाल कर तथा उसके इंटरव्यू को निकालकर ,और भी UPSC के जितने पड़ाव है उनको पास कर के डीएम बनता है , मैं आपको बताना चाहूंगा की यह एग्जाम इतना आसान नहीं है और इसमें  भी जिनके सबसे जयादा नंबर होते है वही DM बनता ही जिन्हे बहुत से लोग IAS ( Indian Administration Service ) के नाम से भी जानते है और जिनके कम नंबर होते है वो IPS बनते है , लेकिन मुझे याकि हैं की बहुत कम ही लोगो को DM का फुल फॉर्म पता होगा अगर आपको DM का फुल फॉर्म नहीं पता तो इसमें घबड़ाने की कोई जरुरत नहीं है क्यों की आज मैं आपको इसका फुल फॉर्म बताने वाला हु तो चलिए बिना देरी किए इसके बारे में जानते है | 

DM full form 

( हिंदी )

जिला अधिकारी 

( English )

District Magistrate 

DM क्या होता है ? 

दोस्तों मुझे उम्मीद है की आपने डीएम का नाम तो सुना ही होगा और आप इसके बारे में तो थोड़ा बहुत जानते भी होंगे क्यों की DM हर एक जिले में होता है और इसी के देख रेख में हर पुरे जिला चालत है और यह DM की एक तरह से जिम्मेदारी भी होती है | 

DM यानी जिलाधिकारी किसी भी जिले का सबसे बड़ा अधिकारी होता है और प्रथम नागरिकी भी इसे लिए DM के पद को सबसे बड़ा पद माना जाता है , तथा जिला अधिकारी किसी भी जिले का वो वयक्ति होता है जो भूराजस्व , के संग्रह से लेकर जिले में होरहे प्रत्येक प्रक्रिया के लिए जिम्मेदार होते है  , चाहे वो लोगो की सुरक्षा को , कोई बीमारी  या फिर आपदा हो इन सारी चीज़ो की सीधे जिम्मेदारी DM की होती है | 

NOTE : आपकी जानकारी के लिए बताना चाहूंगा की कार्यरीत DM यानी डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट की संख्या पुरे भारत  देश में 718 है यानी पूरे भारत देश में जिलों की संख्या 718 है और पूरे जिलों में DM की  नियुक्ति  इसलिए की जाती है की और भी जितने छोटे अधिकारी जैसे.. ब्लॉक अधिकारी , SDM ,ADM इत्यादि  है वो DM के देखरेख में अच्छे से काम करें | 

 ये तो आपको पता होगा की IAS आगे चल कर किसी जिले का DM बनता है पर कैसे चलिए जानते है , सबसे पहले किसी भी IAS को DM बनने के लिए कम से कम 6 वर्षों तक सेवा करनी होगी जिसमे उसके ट्रेनिंग के 2 वर्ष भी शामिल है , इसके बाद जाकर कोई भी DM पद के लिए तैयार होता है |  

ये भी पढ़े… 

DM बनने के बाद जिम्मेदारी ? 

जो DM बनना चाहते है या फिर DM बन के लिए तैयारी कर रहे है उन लोगों के मन में ये सवाल हमेशा आता रहता है की DM बनने के बाद हमारे ऊपर क्या-क्या जिम्मेदारी आएगी , इसलिए मैं आपको उन सारे जिम्मेदारियों के बारे में बताने वाला हु ताकि उन्हें पहले से ही इन सारी चीजों का अच्छा ज्ञान हो जाए | 

  • पूरे जिले की कानून व्यवस्था का कार्य भार 
  • जिले की पुलिस के पूरे कार्य भर को नियंत्रित करना 
  • जिला मजिस्ट्रेट के पास  जिले में लॉक-उप और जेल के प्रशासन को पूरा नियंत्रित करना 
  • हर साल का हुवा अपराध और कार्य की पूरी जानकारी सरकार तक भेजना 
  • जिले का हमेशा पूरा निरछन करना तथा अपने से नीचे वाले अधिकारियों की मीटिंग लेना 

दोस्तों इसके अलावा और भी सैकड़ो जिम्मेदारियां DM पर होती है लेकिन मैंने यहाँ पर सिर्फ कुछ मतहत्वपुर्ण जानकारिओं को ही बताया है जो की हर एक वयक्ति को जानना चाहिए | 

DM बनने के लिए योग्यता ?

बहुत से लोगों के मन में ये सवाल हमेशा आता रहता है की DM बनने के लिए कितनी योग्यता की जरुरत पड़ती है ? क्या हमें DM बनने के लिए बहुत ज्यादा पढाई करनी पड़ेगी तो मैं आपको बताना चाहूंगा की हा DM बनने के लिए आपको ज्यादा पढाई करनी पड़ेगी और कुछ योग्यता  की भी जरुरत पड़ती है जिसके बारे में मैंने निचे एक-एक करके विस्तार से बताया हु | 

  • दोस्तों DM बनने के लिए सबसे पहले आपको अपना 10th + 12th 50% अंकों से पूरा करना होगा
  • उसके बाद आपको किसी अच्छे यूनिवर्सिटी से अपना ग्रेजुएशन पूरा करना होगा 
  • अगर आप चाहें तो अपने ग्रेजुएशन के साथ-साथ UPSC की  तैयारी भी कर सकते है 
  • अगर आप जनरल कैटेगरी से है तो आप 21 से 30 वर्ष तक UPSC का फॉर्म भर सकते है 
  • अगर आप OBC कैटेगरी से हो तो आप 21 से 33 वर्ष UPSC का फॉर्म भर सकते हो 
  • अगर आप  ST या SC से है तो आप 21 से 35 वर्ष तक UPSC का फॉर्म भर सकते है 

दोस्तों योग्यता से ज्यादा जरूरी है ज्ञान अगर आप के पास अच्छी जानकारी है आपकी तैयारी काफी अच्छी है तो आपके लिए योग्यता उतनी मायने नहीं रखती है आप पहले ही मौके में UPSC निकल ले जाओगे , इसलिए योग्यता जैसी चीजों को छोड़ कर आप पढाई पे ज्यादा ध्यान दे ताकि जल्द से जल्द UPSC निकाल कर आप DM बन सके | 

DM कैसे बने पूरी जानकारी 

सभी छात्र यही जानना चाहते है की हम DM कैसे बने क्यों आज कल DM बनना हर स्टूडेंट का सपना होता है और हो सके तो यह सपना आपका भी हो लेकिन क्या आपको पता है की DM बनने के लिए क्या करना पड़ता है अगर हा तो बहुत अच्छी बात है और अगर आपको नहीं पता है तो फिर आप हमारे साथ रहे क्यों की इसके बारे में मैं आपको सारी जानकारी देने वाला हु | 

ये भी पढ़े… 

DM के परीक्षा पैटर्न को समझें 

दोस्तों किसी भी एग्जाम को देने से पहले उस  एग्जाम के परीक्षा पैटर्न को अच्छे से समझना चाहिए क्यों की अगर आपको एक दफा परीक्षा पैटर्न समझ आ गया तो आप बिलकुल आसानी से से इस परीक्षा को निकाल लोगे दोस्तों जैसे की आपको पता ही  होगा  की  DM बनने  के लिए UPSC की परीक्षा निकालनी पड़ती है अगर आप आप इस परीक्षा को निकाल लेते है तो आपको फिर से एक परीक्षा देनी होगी जिसे  मेंस कहते है अगर इससमे भी  आप पास हो जाते हो  तो  फिर आपको इंटरव्यू में बुलाया जाएगा  , 

Pre exam  

दोस्तों UPSC के द्वारा कराए जाने वाले इस परीक्षा में छात्र सबसे ज्यादा भाग लेते है क्यों की यह UPSC का प्रारंभिक परीक्षा है तथा इसे कोई भी कर सकता है और यहाँ पर प्रत्येक विद्यार्थी को कुछ बहुविकल्पीय प्रश्न करने को दिया जाता है ताकि छात्रों की योग्यता को आंका जा सके तथा इस परीक्षा में जो छात्र पास करते है वही छात्र केवल मेंस का का एग्जाम देते है |

Mains exam 

Pre exam को पास करने के बाद छात्र को मेंस एग्जाम देना होता  है यह एग्जाम pre से थोड़ा कठिन होता है क्यों की इस परीक्षा में बहु विकल्पी प्रश्न के जगह पर निबंध लिखने को आता है वो भी बड़ा-बड़ा और सबसे बड़ी बात की सारे प्रश्नो को एक निश्चित समय अंतराल के अंदर ही करना होता है इस लिए यह कठिन हो जाता है और बहुत से छात्र अच्छी तैयारी ना होने के वजह से इस एग्जाम को पास नहीं कर पाते है | 

Interview 

इन दोनों परीक्षाओं को पास करने के बाद आपको USPC के द्वारा कराए जाने वाला इंटरव्यू में आपको बुलाया जाता है जिसमें छात्र से कुछ सवाल पूछ कर उसके योग्यता को समझने की कोशिश की जाती है , और अगर आप इस इंटरव्यू को अच्छे से देते है तो आपको एग्जामिनर के द्वारा अच्छा नंबर मिलता है जिससे की आप IAS यानी DM बनने के एकदम करीब पहुँच जाते है 

नोट : अगर आप UPSC के सारे परीक्षा में अच्छा करते है तो आपको IAS बनने से कोई नहीं रोक पाएगा 

DM बनने के बाद सैलरी 

अंत में सब यही जानना चाहता है की एक DM की सैलरी कितनी होती है जिले का सबसे बड़ा अधिकारी कितना कमाता होगा तो मैं आपको बताना चाहूंगा की एक जिले का अधिकारी महीने का कम से कम 1 लाख रूपए कमाता है जो की बहुत ही अच्छी सैलरी मानी जाती है , और इसके साथ-साथ DM को बहुत सारी गाड़िया तथा रहने के लिए एक अच्छा सा घर और बहुत से पुलिस वाले  उसकी सुरक्षा करने के लिए लगे रहते है | 

Conclusion 

मुझे उम्मीद है की आपको हमारा यह आर्टिकल पसंद आया होगा और आपके DM ( डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट ) से संबंधित जितने भी सवाल होंगे आपको उन सारे सवालो के जवाब मिल गए होंगे लेकिन फिर भी आपके मन में कोई सवाल हो तो आप मुझसे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है मुझे आपकी मदद करके काफी खुशी मिलेगी | 

ये भी पढ़े… 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *